For all those who have enrolled for singing and dance competitions, please contact us for audition dates

Category: Uncategorized

Yशनिकी साढेसाती व हनुमानकी पूजा


यदि शनिकी साढेसाती हो, तो उस प्रभावको कम करने हेतु हनुमानकी पूजा करते
हैं । यह विधि इस प्रकार है – एक कटोरीमें तेल लें व उसमें काली उडदके
चौदह दाने डालकर, उस तेलमें अपना चेहरा देखें । उसके उपरांत यह तेल
हनुमानको चढाएं । जो व्यक्ति बीमारीके कारण हनुमान मंदिर नहीं जा सकता,
वह भी इस पद्धतिनुसार हनुमानकी पूजा कर सकता है ।  खरा तेली शनिवारके दिन
तेल नहीं बेचता, क्योंकि जिस शक्तिके कष्टसे छुटकारा पानेके लिए कोई
मनुष्य हनुमानपर तेल चढाता है, संभवत: वह शक्ति तेलीको भी कष्ट दे सकती
है । इसलिए हनुमान मंदिरके बाहर बैठे तेल बेचनेवालोंसे तेल न खरीदकर घरसे
ही तेल ले जाकर चढाएं ।